Sunday, October 05, 2008

चंडीपाठ - वीरेन्द्र कृष्ण भद्र की मशहूर आवाज़


आज सारे देश में देवी दुर्गा का बोधन या स्वागत हो रहा है। वीरेन भद्र के द्वारा किया गया चंडी पाठ घर घर में महालया के दिन और इन दिनों में सुना जाता है। मैं यहाँ उन्हें पेश कर रही हूँ। ये अन्य जगहों पर भी आनलाएन उपलब्ध हैं और आप चाहें तो सी.डी. भी ख़रीद सकते हैं।




5 comments:

सोनाली सिंह said...

अच्छा है, मानसी दी! सी डी कहाँ-कहाँ उपलब्ध है ?

Manoshi said...

सीडी हर जगह उपलब्ध होनी चाहिये। किसी भी शहर में। वैसे आप आनलाइन डाउनलोड कर सी डी बर्न भी कर सकते हैं।

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

वीरेन कृष्ण भद्र जी जब "ज्योतिर्मयी " बोलते हैँ वास्तव मेँ माँ सामने आ खडी हो जातीँ हैँ ! :)
बेहद प्रभावशाली और द्रढ भक्ति भाव से भरे स्वर हैँ --
मानोशी, बहुत सुख मिला सुन कर -
स स्नेह, - लावण्या

राकेश खंडेलवाल said...

इस पावन पर्व पर अपने परिवेश से जुड़ने का सुअवसर प्रदान करने के लिये आपको अनेक धन्यवाद

Anonymous said...

अच्छा लगा सुन कर....

मंगल कामनाओं सहित
रिपुदमन