Saturday, December 20, 2008

आज का दिन- यूँ ही ब्लागिंग और रब ने बना दी जोड़ी

कल की २० से.मी. गिरती बर्फ़ में घर वापस आ कर भगवान का फिर शुक्रिया अदा किया कि एक बार फिर सही सलामत घर पहुँच गए, ऐसे मौसम में। आज का दिन साफ़ सुथरा, सुंदर धूप, और कल का फ़ोरकास्ट है फिर १० से.मी. बर्फ़। यानि कि आज का दिन था घूमने फिरने का। क्रिसमस की छुट्टियाँ शुरु हो चुकी हैं। हर जगह जिंगल बेल्स सुनाई दे रहा है। ’व्हाइट क्रिसमस’ की चाह रखने वाले ख़ुशी मना रहे हैं।

आज का दिन बहुत अच्छा बीता। आज मैं पाकिस्तान के मशहूर कम्पोज़र सोहेल राणा साहब से मिली और जनवरी से वो मुझे गज़ल गाने की तालीम देंगे। ये बहुत ख़ुशी की बात है मेरे लिये।

मैं और वो घूमते हुये, आज अचानक ही प्लान बना लिया शाहरुख़ की नई फ़िल्म ’रब ने बना दी जोड़ी’ देखी जाये। हम दोनों के बीच का डील है कि हम दोनों उनकी पसंद की एक फ़िल्म देखेंगे तो फिर उसके बाद एक मेरी पसंद की फ़िल्म देखेंगे। अब उन्हें "जेम्स बांड" पसंद है और मुझे "हम दिल दे चुके सनम" टाइप्स। तो इस डील के चलते वो ’प्राइड ऐंड प्रीज्यूडि़स’ देख चुके हैं (बोर हो कर..बिचारे) और मैं ’कसीनो रायल’...(बाप रे!)। तो खै़र, आज हमने मेरी पसंद की मूवी देखी। लकिली, दोनों को अच्छी लगी ये फ़िल्म। मुझे अफ़ कोर्स उनसे ज़्यादा। इस फ़िल्म का रिव्यू काफ़ी लोग लिख चुके हैं, मैं अलग से नहीं लिखूँगी, पर इतना कहूँगी- एक अच्छी फ़िल्म, देखने लायक। ’हौले हौले’ गाना बहुत अच्छा लगता है मुझे और उस फ़िल्म में इस गीत के वक़्त मुझे तो ज़ोर ज़ोर से गाने और ताल के साथ साथ ताली बजाने का मन हुआ, पर यहाँ लोग इतने ज़्यादा सोबर हैं, कि सब शांति से पिकचर देखते रहे। तो ख़ैर, फ़ुल एन्टर्टेनमेंट, बहुत मज़ा आया देख कर इसे। ज़रूर देखें।

8 comments:

संगीता पुरी said...

परसों ये पिक्‍चर हमने भी देखी।आपके यहाँ लोग इतने ज़्यादा सोबर हैं, कि सब शांति से पिकचर देखते रहे और आपको दिक्‍कत हुई। हमलोगों को यह पिक्‍चर तालियों और सीटीयों के बीच देखनी पडी।

गौतम राजरिशी said...

फिल्मों का शौकीन तो हूं,किन्तु इधर कुछ दिनों से नहीं देख पा रहा...वैसे ये गज़ल-गायन सीखने वाली बात ने उत्सुकता बढा दी.

P.N. Subramanian said...

"बोले थिलो तुमि तीर्थे आसिबे, और तुमि आसिले ना", फ़िरोज़ा बेगम की आवाज़ में क्या यह गीत सुना पाएँगी?

creativekona said...

Manoshi ji,
Kabhi kabhi aise hee din bitana achchha lagta hai.Vaise snow fall ka to ap achchha anand uthati hongee ,jo ki Kolkata men naheen hota raha hoga.Kal ke barfbaree bhare din ke liye meree shubhkamnayen.
Hemant Kumar

अनूप शुक्ल said...

अच्छा है। गाना सीखकर हम लोगों को सुनाओ!

chavanni chap said...

manosi,
chavanni aapko is series ki kadi likhne ke liye aamantrit kar raha hai.
http://chavannichap.blogspot.com/2008/12/blog-post_22.html
chavannichap@gmail.com

कंचन सिंह चौहान said...

aur mujhe TUJHME RAB DIKHTA HAI ka female virsion bahut bhaya...!

shelly said...

WOW!
Every one wants this type of life. You should thanks GOD.
=============================
SHELLY KANE
sapience